What is Sensex और यह कैसे बनता है?

क्या आप जानते है What is Sensex और यह कैसे बनता है? अक्सर आप लोगो ने TV पर या फिर news paper में Sensex शब्द को पढ़ा या देखा होगा. और कभी कभी आप ने देखा होगा की Sensex आज इतने अंक ऊपर चला गया.

What is Sensex?
What is Sensex?

तो कभी आप ने देखा होगा की Sensex आज इतने अंक नीचे गिरा है. जब भी आप Share Market में निवेश करने के बारे में सोचते हैं. तो उस समय आपके मन में Sensex के बारे में जरुर आया होगा.

पर आप को इन शब्दों का अर्थ नहीं पता होगा. क्योंकि आप नहीं जानते की Sensex क्या होता है? तो आज के इस पोस्ट में What is Sensex और यह कैसे बनता है? आज इस पोस्ट में हम जानने की Sensex क्या है और इसका क्या काम होता है?

हम आपको अपने पहले के पोस्ट में बता चुके है की nifty क्या होता है? आज के पोस्ट में हम बात कर रहे है Sensex की. तो Sensex भी nifty की तरह ही होता है. पर nifty की compare में Sensex में मात्र 30 companies Listed होती है.

Nifty को nifty 50 भी कहते है. क्योंकि इसमें 50 Companies listed होती है. चलिए देखते है की What is Sensex और यह कैसे बनता है?

Full Form of Sensex

Full Form of SensexSensitive Index
Full Form of Sensex

What is Sensex in hindi

Sensex शब्द को sensitive और index शब्दों से मिल कर बना है. इसका मतलब यह है की यह संवेदी Index होता है.

Sensex हमारे Indian के Stock Market का BenchMark index होता है. जो की BSE ( Bombay Stock Exchange) में Listed shares के भाव में होने वाली तेजी और मंदी को बताता है. इसी के जरिये हम इसमें Listed 30 सबसे बड़ी companies के Display की information हासिल होती है.

Sensex की बात की जाए तो यह भारत का सबसे पुराना Stock market index होता है, जिसकी शुरुआत सन 1986 में हुई थी.

Sensex जो की एक Stock market index होता है और इसका सबसे Important काम है कि यह Stock market में Listed companies के सभी shares के भाव को देखता रहे.

और फिर दिन भर के काम के बाद हमको एक औसत value दे. जिस से कि हमे Stock market में Listed Companies के Shares के भावो में होने वाली तेजी और मंदी की information आसानी से मिल सके.

Demat account क्या है?

Share market क्या है?

Bombay Stock Exchange (BSE) जो की भारत का सबसे पुराना Stock exchange होता है. इसके अंतर्गत कुल 30 प्रमुख Indian companies आती हैं. ये Companies market capitalization के हिसाब से देखा जाए.

तो बहुत बड़ी होती है, यह अभी के समय में Indian GDP का कुल 37% है. यह company एक प्रकार से Indian market के trend को set करने का काम करती हैं. और आसान शब्दों में कहें तो भारत की बड़ी companies के Shares की कीमतों को Assessing के लिए बनाये गए Index जो इन companies के Shares की बढ़ती घटती कीमतों पर नजर रखता है. इसको ही sensex कहते है.

Sensex कैसे बनता है?

Sensex को Stock exchange की कमिटी बनती है. जिसमे BSE के 13 अलग अलग Sector से top 30 company को चुना जाता है.

यह top 30 इनके share के लेन देन के आधार पर चुनी जाती है, जिसमे यह देखा जाता है की एक साल में इन company के share को कितना ख़रीदा और बेचा गया है.

BSE की Stock exchange में हजारों Company listed है. तो Sensex को चुनने की यह Process इसी प्रकार चलती रहती है और कई बार Sensex से company को निकला और जोड़ा जाता है.

Sensex आपको BSE Stock exchange में हो रहे फायदे और नुकसान का एक प्रारूप देती है.

Sensex के अन्दर भारत की Top thirty company आती है. जो की हमे भारतीय बाजार में हो रही मंदी का उछाल का संकेत देती है .

Top 30 Companies कोन से हैं

1) Adani Ports and Special Economic Zone Ltd.
2) Asian Paints
3) Axis Bank Ltd.
4) Bajaj Auto Ltd.
5) Bharti Airtel Ltd.
6) Cipla
7) Coal India Ltd.
8) Dr. Reddys Laboratories Ltd.
9) HDFC Bank Ltd
10) Hero MotoCorp Ltd.
11) Hindustan Unilever Ltd.
12) Housing Development Finance Corporation Ltd.
13) ICICI Bank Ltd.
14) ITC
15) Infosys Ltd.
16) Kotak Mahindra Bank Ltd.
17) Larsen & Toubro Ltd.
18) लुपिन
19) Mahindra & Mahindra Ltd.
20) Maruti Suzuki India Ltd.
21) NTPC Ltd.
22) Oil & Natural Gas Corporation Ltd.
23) Power Grid Corporation Of India Ltd.
24) Reliance Industries Ltd.
25) State Bank Of India
26) Sun Pharmaceutical Industries Ltd.
27) Tata Consultancy Services Ltd.
28) Tata Motors
29) Tata Motors – DVR Ordinary
30) Tata Steel Ltd.
31) Wipro Ltd.

Sensex के फायदे

Sensex के फायदे के बारे में नीचे बतया गया है

1. इसमें देश की प्रमुख 30 company शामिल होती है. तो अगर Sensex में बढोती दिखाई देती है तो भारतीय company का भी विकाश होता है

2. इससे देश विदेश के लोग उस company में Investment करते है और इससे company अपने आप ही बढाती है.

3. जिससे नौकरी और रोजगार में भी बढ़ोतरी होती है एवं company का production भी बढ़ता है .

4. जब भारत की company में विदेश का Investment बढ़ता है. तो चोजों की कीमत कम होती है क्योंकी निवेश से रूपये विदेशी मुद्रा से मजबूत होता है .

5. Sensex में सिर्फ 30 company होती है, तो इसका आकलन बहुत ही आसन होता है nifty के मुकाबले में .

हम आशा करते है की आज का हमारा ये पोस्ट What is Sensex और यह कैसे बनता है? आपको जरुर पसंद आया होगा. तो आपको इस पोस्ट What is Sensex और यह कैसे बनता है? से related कोई doubt हो तो जरुर command करे.

हमने पूरी कोशिक करे है की आपको nifty के बारे सारे जानकारी मिल सके. पर अगर आपको हमारी इस पोस्ट में कोई भी कमी दिखाई दे रही हो, तो कृपया हम command करके जरुर बताये और हमें उन कमी को सुधारने में मदद करें ,धन्यवाद.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected by Hindi World Tech