What is Cookies in Hindi

What is Cookies in Hindi हमारे mobile और laptop में कई तरह की file होती है. जिनमें से एक की कुकीज भी हमारे हार्ड ड्राइव में मौजूद एक नॉर्मल टेक्स्ट फाइल होती है जो कि Internet से Automatic save हो जाती है.

जब भी हम कोई Website open करते हैं उसकी सारी जानकारी एक file में सेव जाती है जिससे कि जब भी हम दोबारा कोई Website open करते हैं तो उस से related कोई भी पेज खोलने में ज्यादा आसानी होती है.

और इस प्रकार हमें भी कम समय लगता है और data भी कम खर्च होता है. अगर Technically बात करें तो यह एक तरह का Identification card की तरह काम करता है.

What is Cookies
What is Cookies

जो कि इंटरनेट पर Advertising size और E-commerce website के लिए बहुत ही जरूरी होता है क्योंकि यह उन से related सभी प्रकार की ऐड दिखाने के लिए बहुत ही कारगर होता है.

अगर आप इंटरनेट का रेगुलर इस्तेमाल करते हैं, तो आपने Cookies के बारे में जरूर सुना होगा. जैसे कि Android mobile में उनके Operating System के नाम खाने की चीजों पर रखे जाते हैं.

वैसे ही Internet का नाम Cookies एक खाने की चीज से जुड़ा हुआ है. तो आज हम आपको इस Article (What is Cookies in Hindi) में बताएंगे कि Cookies क्या है – What is Cookies in Hindi और यह कैसे काम करती है और इसका क्या फायदा है.

Cookies क्या है – What is Cookies in Hindi

What is Cookies in Hindi

जब भी आप कोई भी Browser इस्तेमाल करते हैं चाहे वह गूगल क्रोम या फ़ायरफ़ॉक्स हो या Internet Explorer या कोई भी mobile का browser जैसे Opera मिनी या फिर UC Browser जब भी आप इन Browser का इस्तेमाल करते हैं और कुछ भी चीज Surf करते हैं.

उसकी जानकारी एक फाइल के रूप में हमारे फोन या हमारे कंप्यूटर में से हो जाती है जैसा कि आपने कौन सा कीवर्ड इस्तेमाल किया है और कौन सी वेबसाइट खोली है तो इस तरह की सभी जानकारी एक फाइल में सेव होकर हमारे mobile है कंप्यूटर डाटा में रख दी जाती है ताकि इसका इस्तेमाल बाद में किया जा सके।

Cookies कैसे काम करता है?

जैसा हमने आपको बताया कि जब भी हम ब्राउज़र पर सर्च करते हैं तो उनकी छोटी छोटी फाइलें हमारे कंप्यूटर या हमारे फोन में सेव हो जाती है। इससे Website server को एक Message के रूप में भेजा जाता है.

जब भी हम कोई साइत खोलते हैं या कुछ सर्च करते हैं उसके सारे data एक फाइल में सेव हो जाता है। साइट पर जाते हो वहां पर आपको कई ऐसी चीजे दिखाई जाती हैं जो कि आपने पहले सर्च की हो या वो आपका उसमें इंटरेस्ट हो.

ऐसा इसलिए होता है क्योंकि हमारे मोबाइल या हमारे कंप्यूटर में कुकीज की फाइल से हो जाती है जिसको देखकर इंटरनेट पर उसी  के हिसाब से सारी विज्ञापन दिखाए जाते हैं.

 Cookies के फायदे

1. Cookies को आसानी से इस्तेमाल कर सकते हैं और इस को लागू भी कर सकते हैं।

2. यह सर्वर की फाइल को सेव करने के लिए बहुत ही कम डाटा लेती है जो कि इसका बहुत बड़ा फायदा है।

3. जब हमारा ब्राउज़र किसी कारण से बंद हो जाता है तो इसका इस्तेमाल करके हम अपनी खोली हुई Tab दोबारा Open कर सकते है।

4. कुकीज़ समय बचाने और डाटा बचाने बहुत ज्यादा हेल्प करती है।

 Cookies के नुकसान

1. यूज़र कुकीज को डिलीट कर सकते हैं।

2. किसी Browser में कुकीज़ को ब्लॉक करके उनके इस्तेमाल को रोक सकते हैं।

3. इसमें कॉन्पलेक्स टाइप के डाटा अलावा नहीं किया जाते हैं।

4. इनके फ़ाइल का साइज़ 4kb अभी से ज्यादा नहीं होता है जो कि एक इमिटेशन है यह हमारे पास वर्ड और हमारे यूज़र आईडी को सपोर्ट कर लेता है जो कि सिक्योरिटी के लिए बहुत ही खतरनाक है

 Cookies फ़ैक्ट

1.Cookies सभी Browser पर निर्भर करती है जैसे कि मान लो आप क्रोम ब्राउज़र का इस्तेमाल करते हैं तो आप उनकी कुकीज को दूसरे ब्राउज़र जैसे इंटरनेट एक्सप्लोरर, फ़ायरफ़ॉक्स में इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे।

2. सभी ब्राउज़र लगभग एक टेक्स्ट फाइल सेव करते हैं जिसको को Cookies कहते हैं।

3. यह किसी भी सेंसिटिव इंफॉर्मेशन को भी लीक कर सकते हैं।

4. Cookies डोमेन पर भी निर्भर करती है क्योंकि एक Domain से लिया हुआ डाटा दूसरे डोमैन के बारे में नहीं बता पाएगा।

5. कुकीज के फाइल लगभग 4KB की होती है जो कि अलग-अलग ब्राउज़र में अलग अलग साइज की हो सकती है।

Cookies कैसे क्लियर करे

ब्राउज़र में कुकीज़ कलियर करना अलग-अलग के अलग अलग ऑप्शन आपको मिलेंगे। मैं आपको यहां फायर फॉक्स के कुछ ऑप्शन बता रहा हूं।

1. आप आपने Firefox Browser को ओपन कर लीजिए।

2. ओपन करने के बाद आप ऑप्शन में चले जाइए।

3. ऑप्शन में जाने के बाद आपको एडवांस नाम Tab मिलेगी।

4. आप उस पर क्लिक कर लीजिए।

5. उस पर क्लिक करने के बाद आपको नेटवर्क नाम से एक टैब दिखाई जाएगी।

6. उस पर क्लिक कर लीजिए और वहां पर आपको Cache डाटा बताया जाएगा। जिसको आप Clear करके अपने Firefox Browser की Cookies को क्लियर कर सकते हैं.

Cookies Block & Delete कैसे करे?

किसी भी प्रकार के cookies को Allow करना है या Block करना है या फिर Web Cookie Delete करना है Computer Browser से इसका Authority User के पास होता है. अगर User चाहे तो उसके Computer से सभी Cookie Delete हो सकते है और अगर Safe Cookie या Third Party Cookie या Popup Cookie को Block करना चाहते है तो कर सकते है.

आप जो भी Browser use करते है उसके Setting या फिर आप अगर कोई Website open किये है तो आप उसके HTTP या Secure Lock पर click करके Direct Cookies Block कर सकते है.

जब आप Browser History Delete करते है, तो वहा पर Cookies का भी Option दिया होता है. आप उसे Select करके Delete कर सकते है.

Cookies में ऐसे कई विकल्प है तथा हर विकल्प की कोई न कोई समस्या है. Cookies के लिए कई बार ऐसा माना गया है कि वे Computer प्रोग्रामों को खराब कर देते है ये वायरस होते है. जबकि ऐसा कुछ नहीं होता Cookies केवल डेटा का टुकडा होता है ।

दोस्तों आज का यह पोस्ट What is Cookies in Hindi और आपका कोई सुझाव है या प्रशन हो तो आप हमें कमेंट करके जरुर बताना है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected by Hindi World Tech