Make WiFi Secure

वायरलेस नेटवर्क इनस्‍टॉल करना आसान है, लेकिन आपको इसे इस्‍तेमाल करने सें प‍हले यह सुनिश्चित करना चाहिए यह अनधिकृत त‍रीके से प्रवेश करनवालों से सुरक्षीत है| अगर किसी ने आपका वायफाय नेटवर्क हॅक कर लिया तो कई चिजें हो सकती है, जैसे इंटरनेट बिल में वृद्धि, डाटा चोरी की संभावना या फिर वे किसी भी आतंकवादी गतिविधि के लिए आपके इंटरनेट का उपयोग कर सकते है|

आम घरेलू यूजर्स को वायफाय को सुरक्षित बनाना बहुत कठिण लगात है| लेकिन मै आपको कहना चाहता हॅूं कि कुछ कदम उठाए तो आपके इंटरनेट को चोरी होने से बचा सकते है और हैकर्स को रोक सकते है|

Login to your wireless router:

ब्राउज़र में routers के ip एड्रेस को टाइप करके अपने router में पहले लॉगइन करे| आमतौर पर सब router का ip एड्रेस 192.168.1.1 होता है| अगर आपको router का ip एड्रेस नही मिल रहा है तो उसे सर्च करने के लिए –

Start – Run – cmd टाईप करके Enter करे|

अब एक command prompt कि विंडो ओपन होगी| यहां ipconfig/all टाईप करके Enter करे|

Default Gateway के सामने आपको router का आईपी एड्रेस मिलेगा|

अब router मे username और password से लॉगिन करे|

डिफ़ॉल्ट गेटवे के सामने routers आईपी एड्रेस मिल सकता है|

(आम तौर पर सब router का डिफ़ॉल्ट यूजरनेम admin और पासवर्ड admin होता है)

Set the router access password:

अगर router का पासवर्ड अभी भी डिफ़ॉल्ट पासवर्ड के लिए सेट है, तो इसे तुरंत बदनला महत्‍वपुर्ण है| यहां स्‍ट्रॉंग पासवर्ड रखे और उसमे कभी भी अपना नाम या मोबाईल नंबर का इस्‍तेमाल ना करे| अगर आप पासवर्ड भूल जाते है, तो सभी router में एक हार्डवेयर रीसेट बटन होता है, जो थोडी देर के लिए दबाकर रखने सें router कि सभी सेटिंग्‍ज रिसेट हो जाती है|

Enable Network Encryption:

आप वायरलेस नेटवर्क के सिग्नल्स को एनक्रिप्ट कर सकते है, जो इंटरनेट का दूसरों व्‍दारा उपयोग करने पर रोक लगाता है|

वायरलेस एन्क्रिप्शन के दो प्रमुख प्रकार नीचे दियें हैं –

a) WEP – यह एक बुनियादी एन्क्रिप्शन है, लेकिन अभी भी सबसे अधिक इस्तेमाल किया जाता है| यह कम सुरक्षीत है और हैकर्स व्‍दारा या इंटरनेट पर उपलब्‍ध मुक्‍त यूटिलिटिज व्‍दारा कुछ मिनट में इसे ब्रेक सकते है|

b) WPA2 (Wi-Fi Protected Access version 2) –

WEP  से WPA2 अधिक सुरक्षित है लेकिन यह 2006 के बाद वाले निर्मित हार्डवेयर के साथ ही यह कंपॅटिबल है.

WEP, WPA या WPA2 सेट करने के लिए Wireless Option के अंतर्गत Security में जाए|

फिर स्‍ट्रॉंग पासवर्ड को सिलेक्‍ट करें|

Enable MAC Filtering:

यह शायद वायरलेस नेटवर्क को अनधिकृत तरीके से प्रवेश करने वालों को दूर रखने के लिए सबसे आसान तरीका है| Router कि administrative settings में आप सभी उपकरणों के MAC अॅड्रेस दे सकते है, जो आप वायफाय को कनेक्‍ट करना चाहते है| और यही उपकरण आपके वाइफाइ को कनेक्‍ट हो सकेंगे|

Router में MAC filtering process उसके निर्माता पर आधारीत होती है, और यह security settings

Make WiFi Secure
Make WiFi Secure

Wireless tab में हो सकती है|

यहाँ आपके सभी उपकरणों के MAC अॅड्रेसेस दें और save करे|

कई router में इसे IP & MAC binding भी कहते है|

Hide your network ID:

एक router उसकी सीमा के भीतर किसी को भी अपने SSID(Service Set Identifier) प्रसारण करता है| SSID एक अद्वितीय आयडी होता है जिसमें 32 अंक होते है और वायरलेस नेटवर्क को नाम देने के लिए इसे प्रयोग किया जाता है| इसमे आपका मोबाइल नंबर, नाम या किसी भी परिवार के सदस्‍यों के नाम का प्रयोग न करें|

आप ‘SSID Broadcast’ को disable करके इस वायरलेस नेटवर्क को दुसरों से छुपा सकते है| लेकिन छुपायें हुये वायरलेस नेटवर्क को खोजना आसान है|

Regularly check who is connected:

आपके वायफाय से कौन कनेक्‍ट है, इसकी जांच करने के विषय में विस्‍तार से जानकारी के लिए यहां क्लिक करें|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

five + 1 =