ERP क्या है? Enterprise Resource Planning

ERP Full Form

ERP Full Form is –Enterprise Resource Planning

Full Form of ERP

Full Form of ERP is – Enterprise Resource Planning

ERP Full Form in Hindi

ERP Ka Full Form हैं – Enterprise Resource Planning – उद्यम संसाधन योजना

What is ERP in Hindi?

ERP( Enterprise Resource Planning ) असल में क्या हैं या यह क्या करता है इस बात पर यह शब्द बहुत प्रकाश नहीं डालता। इसके लिए, आपको एक कदम वापस पीछे आकर विभिन्न प्रोसेसेस के बारे में सोचने की ज़रूरत है जो एक बिज़नेस चलाने के लिए आवश्यक हैं, जिसमें इन्वेंट्री और ऑर्डर मैनेजमेंट, अकाउंटिंग, हयुमन रिसोर्सेस, कस्‍टमर रिलेशनशीप मैनेजमेंट (CRM) और बहुत कुछ शामिल है।

अपने सबसे बेसिक लेवल पर, ERP सॉफ्टवेयर पूरे ऑर्गनाइजेशन में प्रोसेस और इनफॉर्मेशन को सरल बनाने के लिए इन विभिन्न फंक्‍शन को एक पूर्ण सिस्‍टम में इंटिग्रेट करता है।

सभी ERP( Enterprise Resource Planning ) सिस्टम में शेयर्ड डेटाबेस का फीचर होता हैं, जो विभिन्न बिज़नेस युनिटस् द्वारा उपयोग किए जाने वाले कई फंक्‍शन को सपोर्ट करता है।

व्यवहार में, इसका मतलब है कि विभिन्न डिवीजनों में कर्मचारी- उदाहरण के लिए, अकाउंटिंग और सेल्‍स -उनकी विशिष्ट आवश्यकताओं के लिए एक ही इनफॉर्मेशन पर भरोसा कर सकते हैं।

ईआरपी सिस्टम डेटा डुप्लीकेशन को खत्म करते हैं और “सिंगल सोर्स” के साथ डेटा इंटिग्रेटी प्रोवाइड करते हैं।

Enterprise Resource Planning (ERP) सॉफ्टवेयर प्रभावी निर्णय लेने में सुधार लाने के उद्देश्य से ऑर्गनाइज़ेशन के सभी प्रमुख क्षेत्रों से इनफॉर्मेशन को मैनेज और कनेक्ट करने में बिज़नेस की सहायता करते हैं।

ईआरपी सॉफ्टवेयर सोलुशन संपूर्ण ऑर्गनाइज़ेशन में विजिबिलीटी को बढ़ावा देते हैं, जिससे निर्णय लेने वालों को बिज़नेस ऑपरेशन में सुधार की अनुमति मिलती है; जैसे कि इनवेंटरी मैनेजमेंट, अकाउंटिंग, ऑर्डर मैनेजमेंट, हयुमन रिसोर्सेस, सप्‍लाइ चेन, प्रॉडक्‍ट लाइफसाइकील, कस्‍टमर रिलेशनशीप मैनेजमेंट (CRM), आदि।

ERP सॉफ्टवेयर को बिज़नेस के सभी महत्वपूर्ण पहलुओं में मैनेजमेंट के लिए सेंटर पॉइंट के रूप में काम करना चाहिए।

ईआरपी का मतलब क्‍या हैं?

Meaning of ERP in Hindi

ERP का अर्थ Enterprise Resource Planning हैं।

ईआरपी के फंडामेंटल क्‍या हैं?

ERP Fundamentals in Hindi

ERP( Enterprise Resource Planning ) सिस्टम एक सामान्य, डिफाइंड डेटा स्ट्रक्चर (schema) के आसपास डिज़ाइन किए जाते हैं जो आमतौर पर एक सामान्य डेटाबेस होता है।

ERP सिस्टम, कॉमन कंस्ट्रस्ट्स और डेफिनेशंस और यूजर एक्सपेरिएंसेस का उपयोग करते हुए मल्टीपल एक्टिविटीज से एंटरप्राइज़ डेटा एक्‍सेस प्रदान करते हैं।

ERP का महत्वपूर्ण सिद्धांत यह हैं कि यह व्यापक डिस्ट्रीब्यूशन के लिए डेटा का सेंट्रल कलेक्‍शन है। डिस्कनेक्टेड स्प्रैडशीट्स की एक अंतहीन इन्वेंटरी के साथ कई स्टैंडअलोन डेटाबेस के बजाय, ERP सिस्टम अव्यवस्था को ऑर्डर में लाती हैं ताकि सभी यूजर्स – सीईओ से लेकर अकाउंटेंट तक – कॉमन प्रोसेस के माध्यम से प्राप्त किए गए डेटा का निर्माण, स्टोर और उपयोग कर सके।

एक सुरक्षित और सेंट्रलाइज्ड डेटा रिपॉजिटरी के साथ, ऑगर्नाइज़ेशन में हर कोई भरोसा कर सकता है कि डेटा सही, अप-टू-डेट और कम्पलीट है।

क्वार्टरली फाइनेंसियल स्‍टेटमेंट से लेकर आउटस्टैंडिंग रिसीवेबल रिपोर्ट तक पूरे ऑर्गनाइज़ेशन में किए गए प्रत्येक टास्‍क के लिए डेटा इंटीग्रिटी की सुनिश्चित की जाती है।

ईआरपी सिस्टम के उदाहरण कौन से हैं?

ERP System Examples in Hindi

E ईआरपी सिस्टम में आमतौर पर accounting, human resources, sales CRM, और supply chain management के लिए ऐप्‍लीकेशन शामिल होते हैं।

लेकिन आप अपनी आवश्यकताओं को बेहतर ढंग से पूरा करने के लिए विभिन्न मॉड्यूल को जोड़ सकते हैं।

उदाहरण के लिए, आप E-Commerce, inventory और order management, और fulfilment के लिए ERP कंपोनेंट्स जोड़ सकते हैं।

या फिर मैन्युफैक्चरिंग से रिटेल तक के लिए, इंडस्ट्रीज की एक विस्तृत श्रृंखला के लिए डिज़ाइन किए गए एप्लिकेशन शामिल कर सकते हैं।

ईआरपी का इतिहास क्‍या हैं?

History of ERP in Hindi

ERP कि हिस्‍ट्री 100 साल से अधिक समय पहले से है। 1913 में, इंजीनियर फोर्ड व्हिटमैन हैरिस ने डेवलप किया था। इसे प्रोडक्शन श्‍येडयुल करने के लिए एक पेपर-बेस मैन्युफैक्चरिंग सिस्‍टम,  Economic Order Quantity (EOQ) मॉडल के रूप में जाना जाने लगा।

दशकों तक, EOQ मैन्युफैक्चरिंग के लिए स्‍टैंडर्ड था। टूलमेकर ब्लैक एंड डेकर ने 1964 में इस गेम को बदल दिया। यह पहली कंपनी थी, जिसने Material Requirements Planning (MRP) सोल्‍युशन को अपनाया जिसमें EOQ कांसेप्‍ट को मेनफ्रेम कंप्यूटर के साथ कंबाइन किया गया।

1983 में Manufacturing Resource Planning (MRP II) को डेवलप किए जाने तक MRP मैन्युफैक्चरिंग के लिए स्‍टैंडर्ड बने रहे।

MRP II फीचर्ड मॉड्यूल को मुख्य सॉफ्टवेयर कंपोनेंट्स के रूप में शामिल किया गया और purchasing, bill of materials, scheduling और contract management सहित महत्वपूर्ण मैन्युफैक्चरिंग कंपोनेंटस् शामिल थे।

पहली बार, विभिन्न मैन्युफैक्चरिंग टास्‍क एक कॉमन सिस्‍टम में इंटिग्रेट किए गए थे।

MRP II ने भी एक दमदार विजन को प्रदान किया जिसमें ऑर्गनाइज़ेशन  सॉफ्टवेयर डेटा को शेयर और इंटिग्रेट करने के लिए सॉफ्टवेयर का लाभ उठाने और बेहतर प्रोडक्शन प्‍लानिंग, कम इन्वेंट्री और कम वेस्‍ट (स्क्रैप) के साथ ऑपरेशन एफिशिएंसी को बढ़ावा दिया जा सकता था।

1970 और 1980 के दशक के दौरान कंप्यूटर टेक्नोलॉजी डेवलप हुई, MRP II के समान कांसेप्‍ट को डेवपल किया गया जो manufacturing, incorporating finance, customer relationship management, और human resources data से परे बिज़नेस एक्टिविटी को हैंडल कर सकते थे।

1990 तक, टेक्‍नोलॉजी एनालिसिस के इस नए कैटेगरी के बिज़नेस मैनेजमेंट सॉफ्टवेयर को enterprise resource planning का नाम मिला।

वर्तमान में ERP

एक परिसर से क्लाउड तक

1960 से इक्कीसवीं सदी की शुरुआत तक, ERP का स्वीकार तेजी से बढ़ा, क्योंकि अधिक ऑर्गनाइज़ेशन ERP पर भरोसा कर रहे थे ताकि मुख्य बिज़नेस प्रोसेसेस को सरल बनाया जा सके और डेटा विजिबिलिटी में सुधार किया जा सके।

इसी समय, ERP सिस्टम को लागू करने की लागत बढ़नी शुरू हुई। न केवल ऑन-प्रिमाइसेस हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर बल्कि महंगे कैपिटल इंवेस्टमेंट्स थे। इसके साथ ही एंटरप्राइज़ ERP सिस्टम को अक्सर कस्टम कोडिंग, कंसल्टेंट्स और ट्रेनिंग की अतिरिक्त लागतों की भी आवश्यकता होती थी।

इस बीच, ERP टेक्नोलॉजी नए फीचर्स और फंक्शनलिटी, जैसे एम्बेडेड एनालिटिक्स के साथ, इंटरनेट को गले लगाने के लिए डेवलप हुई।

समय बीत जाने पर, कई ऑर्गनाइज़ेशन ने पाया कि उनके ऑन-प्रिमाइसेस ईआरपी सिस्टम आधुनिक सुरक्षा की मांग या उभरती हुई टेक्नोलॉजीज, जैसे स्मार्टफोन के साथ काम नहीं रख सकती हैं।

ERP ने अब अपने लिए क्लाउड या software-as-a-service (SaaS) डिलीवरी मॉडल में प्रवेश कर लिया हैं। इसका मतलब हैं कि कंपनी के लोकेशन पर न होते हुए ERP सॉफ्टवेयर “क्लाउड में” होता है।

क्लाउड ERP के लिए और अधिक किफायती ऑप्‍शन प्रदान करता है जो operational expenses (OpEx) और capital expenses (CapEx) दोनों को कम करता है क्योंकि यह कंपनियों को सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर खरीदने या अतिरिक्त आईटी कर्मचारियों को किराए पर लेने की आवश्यकता को समाप्त करता है।

इसके साथ ही सपोर्ट करने के लिए किसी महंगे बेसिक इंफ्रास्ट्रक्चर के बिना, रिसोर्सेस को विकास के अवसरों में निवेश किया जा सकता है।

एम्प्लाइज आईटी को मैनेज करने के बजाए अधिक महत्वपूर्ण कार्यों पर अपना ध्यान केंद्रित कर सकते हैं।

Next-Generation ERP

1) Built for Any Size Business

जबकि अतीत की विरासत में आए ERP सिस्टम medium businesses (SMBs) के लिए अक्सर बहुत महंगे थे, क्‍लाउड ने इस बाधा को तोड़ा है।

SaaS सोल्‍युशन के साथ, छोटी कंपनियां एक ही प्रमाणित, इंडस्ट्रियल स्ट्रेंथ वाली ईआरपी सॉफ्टवेयर का लाभ उठा सकती हैं जिन्हें बड़े इंटरप्राइजेस ने वर्षों से उपयोग किया है।

क्लाउड-बेस ERP सोल्‍युशन बिना कैपेक्स निवेश के जल्दी से लागू किया जा सकता है।

2) Delivering an Extended Enterprise

जब क्लाउड ERP, integrated customer relationship management (CRM), supply chain management (SCM), human capital management (HCM), और enterprise performance management (EPM) को शामिल करने के लिए अपने फाइनेंसियल आर्किटेक्चर में विस्तार करता है, तो सिस्‍टम सभी ऐप्‍लीकेशन को एक ही डेटा रिपॉजिटरी और कॉमन युजर ए‍क्‍सपिरियंस के साथ जोड़ता है।

एक विस्तारित क्‍लाउड ERP सिस्टम सभी डिपार्टमेंट को बेहतर visibility और collaboration के साथ मैनेज करने में सक्षम बनाता है, जैसे कि वे एक ही ऑर्गनाइज़ेशन हैं।

इसमें एडवांस रिपोर्टिंग फीचर्स है, जैसे डेटा विज़ुअलाइज़ेशन और एडवांस एनालिटिक्स।

हमे उम्मीद है की आज का हमरा यह पोस्ट (ERP क्या है? Enterprise Resource Planning) आप सभी को पसंद आया होगा. अगर आपको इस पोस्ट (ERP क्या है? Enterprise Resource Planning) से related कोई भी doubt हो तो हमे जरुर comment करे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

three × 2 =