Difference Between Internet and Intranet in Hindi

Difference Between Internet and Intranet in Hindi.

ज्यादातर लोग Internet और Intranet के बीच हमेशा Confuse रहते हैं. इनके बीच काफी अंतर होने के बाद भी हमें यह समझने में दिक्कत होती है. अगर हम Internet की बात करे तो यह सभी के लिए होता है और सभी के द्वारा Access किया जा सकता है.

Difference Between Internet and Intranet in Hindi
Difference Between Internet and Intranet in Hindi

जबकि Intranet किसी भी Organisation का अपना personal network होता हैं और उसको access करने के लिए Authenticated login की आवश्कयकता होती हैं. किसी भी Organisation के Intranet network को उसकी Permission के बिना आप access नहीं कर सकते हो.

आज के इस पोस्ट में हम आपको बताने वाले है की Difference Between Internet and Intranet in Hindi. दोस्तों Internet और Intranet के बीच अंतर के बारे में जानने से पहले Internet और Intranet क्या होता है यह जानना बहुत ही जरूरी है. चलिए देखते है Internet और Intranet क्या है और Difference Between Internet and Intranet in Hindi.

What is Internet in Hindi

Internet एक Global Network होता है. जो दुनिया के सभी computer को आपस में जोड़ता है और उनके के बीच Transmission provide करता है. यह किसी भी information जैसे Data, audio, video, etc. को send करने के लिए और प्राप्त करने के लिए Wired और wireless दोनों प्रकार के संचार का इस्तमाल करता है.

internet में data “fiber optic cable” के माध्यम से एक devices से दूसरे devices में Transmit होता हैं और इन “fiber optic cable”  का जाल को बहुत Telephone companies ने मिलकर बिछाया है. internet भी एक प्रकार का network है और यह इतना बड़ा होता है इसीलिए इसको Network of networks भी कहते है.

Features of the Internet in Hindi

Internet में बहुत सारे Feature available है. यहाँ हम internet की कुछ महत्वपूर्ण विशेषताएं के बारे में Discussion करेंगे:-

1. Global Network- internet एक बहुत बड़ा network होता है. जिसमे दुनियां के Million computers आपस में Connect होते हैं.

2. Accessibility – Internet एक बहुत बड़ा network होता है. इसलिए आप internet के माध्यम से दुनिया के किसी भी कोने में रखे computer को अपने घर से ही access कर सकते हैं.

3. Low Cost-  internet के Maintenance की Cost comparatively काफी कम होती है.

Advantages of Internet in Hindi

Internet का उपयोग हर क्षेत्र में हो रहा हैं. हम internet के कुछ फायदों के बारे में Discussion करेंगे internet से होने वाले कुछ मुख्य Advantage के बारे में नीचे बताया गया हैं.

1.आज के समय में बहुत सारे Apps available है. जिनसे आप Internet के माध्यम से आप दूसरे देश में बैढे लोगो से बड़ी आसानी से बात कर लेते है.

2. विभिन्न सामाजिक Networking sites जैसे Facebook, Twitter, Instagram और  Google etc का विकाश internet के कारण ही हुआ हैं.

3. Internet पर आप किसी भी तरह की information जैसे की Technology, Health and Science, Social Studies, Geographic Information, Information Technology, Products etc के बारे में  बड़ी आसानी से search engine  के माध्यम से ढूढ़ सकते हो

4. Communication और information के स्रोत के अलावा आज के समय में Internet entertainment का  भी एक माध्यम बन गया है. internet पर मनोरंजन के लिए विभिन्न तरीके उपलब्ध है जिनमे से कुछ निम्नलिखित हैं.

  • Online Television
  • Online Games
  • HotStar /Netflix
  • YouTube
  • Social Networking Apps

Internet electronic commerce की अवधारणा provide करता है. जिससे Electronic system पर Business सौदे किए जा सकते हैं और internet हमें कई अन्य सेवाओं का उपयोग करने की अनुमति देता है जैसे:-

  • Matrimonial Services
  • Online Shopping
  • Online Ticket Booking
  • Online Bill Payment
  • Data Sharing
  • E-mail

Disadvantages of Internet in Hindi

Internet लगभग हर क्षेत्र में  इस्तेमाल किया जा रहा है और यह Information को प्राप्त करने का एक बहुत ही अच्छा Source हैं लेकिन फिर भी इसके कुछ नुकसान है जिनके बारे में नीचे चर्चा की गयी हैं

वायरस को Internet से जुड़े कंप्यूटरों में आसानी से फैलाया जा सकता है। इस तरह के वायरस के हमले से आपका सिस्टम क्रैश हो सकता है या आपका महत्वपूर्ण डेटा डिलीट हो सकता है.

What is Intranet in Hindi

इंट्रानेट नेटवर्क एक प्राइवेट नेटवर्क होता है और इस नेटवर्क का इस्तेमाल किसी Organisation के भीतर ही इनफार्मेशन को शेयर करने, Documents को मैनेज करने collaboration tools और अन्य प्रकार की कंप्यूटिंग सेवाओं के लिए किया जाता हैं.

इंट्रानेट नेटवर्क को कॉन्फ़िगर करने के लिए Organisations अपने स्वयं के सर्वर और फ़ायरवॉल का इस्तेमाल करते है और यह नेटवर्क काफी सिक्योर होता है और आमतौर पर बाहरी लोगों की पहुंच से दूर होता है होता है.

आमतौर पर प्रत्येक कंपनी या संगठन का अपना खुद का इंट्रानेट नेटवर्क होता है और उस कंपनी के कर्मचारी अपने इंट्रानेट नेटवर्क से कनेक्ट कंप्यूटर एक्सेस कर सकते हैं.

Internet पर प्रत्येक कंप्यूटर की पहचान एक यूनिक IP Address के द्वारा होती है ठीक वैसे ही इंट्रानेट नेटवर्क के प्रत्येक कंप्यूटर की पहचान भी आईपी एड्रेस से की जाती है प्रत्येक कंप्यूटर की एक यूनिक IP Address होती है.

Advantages of Intranet in Hindi

Intranet बहुत ही Reliable network system होता हैं यह नेटवर्क collaboration, cost-effectiveness, security, productivity जैसे हर पहलू में फायदेमंद है। इसके Advantages कुछ इस प्रकार हैं।

Communication

इंट्रानेट एक संगठन के भीतर आसान और सस्ता संचार प्रदान करता है। कर्मचारी चैट, ई-मेल या ब्लॉग का उपयोग करके Communication कर सकते हैं।

Collaboration

आवश्यकता के अनुसार कर्मचारियों के बीच जानकारी वितरित की जाती है और इसे  सिर्फ Authorized users  के द्वारा ही एक्सेस किया जा सकता है।

Security

चूंकि इंट्रानेट पर साझा की गई जानकारी को केवल एक संगठन के भीतर ही एक्सेस किया जा सकता है, इसलिए इनफार्मेशन के चोरी होने की लगभग कोई संभावना नहीं है।

Immediate Updates

इंट्रानेट में जब इनफार्मेशन में कोई अपडेट करते है तो वह समय से सभी उपयोगकर्ताओं के लिए अपडेट हो जाता हैं।

Disadvantages of Intranet in Hindi

इंट्रानेट के कई लाभों के अलावा, कुछ Disadvantages भी मौजूद हैं इंट्रानेट नेटवर्क काफी छोटा नेटवर्क होता हैं और इसमें लिमिटेड यूजर होते हैं।

इंट्रानेट नेटवर्क का सेटअप करना बहुत ही महगां होता हैं इसको इस्तेमाल करने के लिए परमिशन की आवश्यकता होती हैं।  Internet की अपेक्षा इंट्रानेट नेटवर्क में आपको बहुत ही कम इनफार्मेशन मिलती हैं.

Difference Between Internet and Intranet in Hindi

Sr. No.INTERNETINTRANET
1एक Public Network होता है, कोई भी Internet को access कर सकता है.ये एक Private Network है, जिसे सिर्फ authorized users द्वारा ही access किया जा सकता है.
2Internet सबसे largest network होता है इससे connected devices के आधार पर.ये एक small network है, जिससे connected devices की संख्या थोड़ी होती है.
3यह दुनियाभर में information सांझा करने का एक साधन है.Intranet एक organization के भीतर सवेंदनशील या गोपनीय जानकारी सांझा करने का साधन है.
4Internet काफी हद तक unsafe होता है. इसकी सुरक्षा नेटवर्क से जुड़े डिवाइस के उपयोगकर्ता पर निर्भर है.Intranet अधिक safe है, network की सुरक्षा एक firewall के माध्यम से enforced की जाती है.
5इसका कोई मालिक नही है अर्थात Internet किसी भी authority द्वारा regulated नही होता है.Intranet को किसी organization या company द्वारा operate किया जाता है.
6Internet में मौजूद information को कोई भी access कर सकता है.सिर्फ organization के member ही network में मौजूद information को access कर सकते है.
7Internet एक Independent network है अर्थात इसके उपयोग करने पर कोई प्रतिबंध नही है.Intranet को Internet के द्वारा access किया जाता है. लेकिन यह एक password द्वारा protected होता है और इसे केवल authorized users ही access कर सकते है.
8इंटनेट में unlimited information संग्रहीत होती है.इंट्रानेट में कुछ विशिष्ट समूह की limited information संग्रहीत होती है.
9ये Network of Networks है इसमे विभिन्न प्रकार के नेटवर्को (LAN, MAN, WAN) को मिलाकर एक नेटवर्क तैयार किया जाता है.Intranet से Local area network (LAN) से मिलकर बनता है.
10इंटरनेट का इस्तमाल करने के लिये किसी भी परीक्षण की आवश्यकता नही है.नेटवर्क के साथ काम करने के लिये उपयोगकर्ता को प्रशिक्षण की जरुरत होती है.
Difference Between Internet and Intranet in Hindi

तो दोस्तों हमे उम्मीद है आपको Difference Between Internet and Intranet in Hindi से जुडी पूरी information मिल चुकी होगी.आज के इस पोस्ट हमने आपको के बारे में पूरी जानकारी दी है. हम आशा करते  है कि आप सभी को हमारा ये पोस्ट   पसंद आया होगा. हम हमेशा यही कोशिश करते है की आप सभी को ज्यादा से ज्यादा जानकरी दे सके. इस article में हमने आपको हर प्रकार की जानकारी देने की कोशिश करी है.

इस article Difference Between Internet and Intranet in Hindi को पढ़कर आपको जो हर प्रकार की information मिल जायेगी. अगर आपको इस article से related कोई भी doubts है. या आपको हमसे कुछ भी पूछना हो. तो आप लोग हमे comments कर सकते है.

अगर आपको हमारे इस पोस्ट Difference Between Internet and Intranet in Hindi से कुछ भी सीखने को मिला हो. तो इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा facebook , twitter , Instagram etc पर जरुर share करे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected by Hindi World Tech